Latest News

हे0नं0ब0ग0वि0 में साप्ताहिक एकेडमिक राइटिंग कार्यशाला का शुभारंभ


ऑनलाइन एवं ऑफलाइन इस कार्यशाला में बतौर मुख्य अतिथि प्रोफेसर एमएम सेमवाल विभागाध्यक्ष राजनीति विज्ञान विभाग,थे। प्रोफेसर मोनिका गुप्ता (अंग्रेजी विभाग बिड़ला परिसर), कार्यशाला संयोजिका प्रोo सीमा धवन, सचिव डॉ देवेंद्र सिंह, डॉ रमेश राणा, डॉ सिद्धार्थ लोहानी, डॉ शंकर सिंह एवं मंचासीन अतिथियों द्वारा दीप प्रज्ज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया ।

रिपोर्ट  - अंजना भट्ट घिल्डियाल

हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय के शिक्षा संकाय में साप्ताहिक एकेडमिक राइटिंग कार्यशाला का शुभारंभ विभागाध्यक्ष प्रो० रमा मैखुरी द्वारा ऑनलाइन माध्यम से किया गया। ऑनलाइन एवं ऑफलाइन इस कार्यशाला में बतौर मुख्य अतिथि प्रोफेसर एमएम सेमवाल विभागाध्यक्ष राजनीति विज्ञान विभाग,थे। प्रोफेसर मोनिका गुप्ता (अंग्रेजी विभाग बिड़ला परिसर), कार्यशाला संयोजिका प्रोo सीमा धवन, सचिव डॉ देवेंद्र सिंह, डॉ रमेश राणा, डॉ सिद्धार्थ लोहानी, डॉ शंकर सिंह एवं मंचासीन अतिथियों द्वारा दीप प्रज्ज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया । पर्यावरण संरक्षण को ध्यान में रखते हुए मुख्य अतिथियों को स्मृति चिन्ह के रूप में पौधे भेंट किए गए इसके उपरांत डॉ रमेश राणा द्वारा गणमान्य अतिथियों का स्वागत एवं अभिनंदन किया गया । कार्यशाला में बोलते भी मुख्य अतिथि प्रोफेसर एमएम सेमवाल ने कहा कि शैक्षणिक लेखन अपने आइडिया को दूसरों तक पहुंचाने का एक प्रभावी माध्यम होता है। शैक्षणिक लेखन ज्ञान को लिखित रूप में डॉक्यूमेंटेशन और प्रसार करने का महत्वपूर्ण साधन है। उन्होंने एकेडमिक राइटिंग की विशेषताएं तथा प्रकारों को बताते हुए शोध में रिफेरंसिंग का महत्व बताया । इस कार्यशाला में ऑनलाइन माध्यम से प्रोफेसर अनिल कुमार नौटियाल, प्रोफेसर गीता खंडूरी, प्रोफेसर सुनीता गोदियाल, उपस्थित रहे।कार्यशाला संयोजिका प्रोफ़ेसर सीमा धवन द्वारा कार्यक्रम की रूपरेखा एवं शैक्षणिक लेखन के बारे में सूक्ष्म रूप से बताया गया। कार्यशाला के प्रथम दिवस पर प्रथम सत्र में रिसोर्स पर्सन के रूप में प्रोफ़ेसर मोनिका गुप्ता अंग्रेजी विभाग द्वारा लेखन कौशल के बारे में विस्तार रूप से व्याख्यान दिया गया। द्वितीय सत्र में रिसोर्स पर्सन के रूप में डॉक्टर सिद्धार्थ लोहानी शिक्षा विभाग द्वारा पेपर एजेंडा तथा प्रस्तुतीकरण की के बारे में व्याख्यान दिया गया। तृतीय सत्र में डॉ देवेंद्र सिंह शिक्षा विभाग रिसोर्स पर्सन के रूप में उपस्थित थे जिन्होंने ईमेल ड्राफ्टिंग के बारे में अपने व्याख्यान को केंद्रित किया। इस कार्यशाला में दिए गए सभी वक्ताओं द्वारा व्याख्यान भविष्य में छात्र-छात्राओं के लिए लाभदायक सिद्ध होगा। इस कार्यशाला में अरुण, अतुल ,प्रियंका, सोनाली ,ज्योति,सूरज, करिश्मा, अनिल, बबीता, वंदना, राखी, हिमानी, संध्या, एवं एमएड चतुर्थ सेमेस्टर के सभी छात्र छात्राएं उपस्थित थे।

Related Post