Latest News

चमोली में क्वारेंटीन में रह रहे लोगों की निगरानी के लिए 610 गांवों में शिक्षकों,प्रधान की तैनाती


होम क्वारेंटीन में रह रहे लोगों की निगरानी एवं देखभाल के लिए जिले के सभी 610 गांवों में शिक्षकों, ग्राम विकास अधिकारी, राजस्व उपनिरीक्षक, आशा वर्कर, एएनएम तथा ग्राम प्रधान की तैनाती की गई है। सुरक्षा के मध्येनजर ड्यूटी पर तैनात इन सभी कार्मिकों को जिला प्रशासन द्वारा आवश्यक उपकरण एवं सामग्री भी उपलब्ध कराई गई है।

चमोली 07 जुलाई,2020,होम क्वारेंटीन में रह रहे लोगों की निगरानी एवं देखभाल के लिए जिले के सभी 610 गांवों में शिक्षकों, ग्राम विकास अधिकारी, राजस्व उपनिरीक्षक, आशा वर्कर, एएनएम तथा ग्राम प्रधान की तैनाती की गई है। सुरक्षा के मध्येनजर ड्यूटी पर तैनात इन सभी कार्मिकों को जिला प्रशासन द्वारा आवश्यक उपकरण एवं सामग्री भी उपलब्ध कराई गई है। जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने कहा कि डयूटी पर तैनात सभी कार्मिक कोरोना संक्रमण की रोकथाम में अहम भूमिका निभा रहे है। ऐसे में इनकी स्वयं की सुरक्षा भी बेहद जरूरी है। इसको देखते हुए जिलाधिकारी ने सभी कार्मिकों को फेस सील्ड, फेस मास्क, ग्लब्स, सेनेटाइजर आदि सुरक्षा सामग्री उपलब्ध करा दी है। गांव घरों में होम क्वारेंटीन लोगों की नियमित स्वास्थ्य जाॅच के लिए आशा व एएनएम को इनफ्रारेड थर्मामीटर मीटर दिए गए है। वही रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाने के लिए हौम्योपैथिक दवा उपलब्ध कराई गई है। 14 दिनों की होम क्वारेंटीन अवधि पूरा करने पर संबधित क्षेत्र की आशा व एएनएम के द्वारा होम क्वारेंटीन किए गए लोगों को जांच के उपरान्त डिस्चार्ज भी किया जा रहा है। जिले में अभी भी 3009 लोग होम क्वारेंटीन में चल रहे है, जिनकी रेग्यूलर माॅनिटरिेंग और आॅनलाइन रिपोर्टिंग भी की जा रही है। कार्मिकों के माध्यम से प्रत्येक गांव में लोगों को कोविड-19 के प्रति सजग किया जा रहा है। इसके अलावा जिले में गठित 23 मेडिकल टीमों द्वारा भी प्रत्येक दिन गांव गांव का विजिट कर होम क्वारेंटीन लोगों की स्वास्थ्य जाॅच की जा रही है और इसकी नियमित रिपोर्ट जिला प्रशासन को उपलब्ध कराई जा रही है।

अंजना भट्ट घिल्डियाल

Related Post