Latest News

अयोध्या: 200 फीट नीचे होगा राम मंदिर का नींव


मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम का भव्य मंदिर 1000 वर्ष तक सुरक्षित रखने की तकनीक के तहत मंदिर निर्माण का कार्य किया जाएगा जिसके लिए 200 फुट नीचे इस मंदिर की नींव रखी जाएगी।

मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम का भव्य मंदिर 1000 वर्ष तक सुरक्षित रखने की तकनीक के तहत मंदिर निर्माण का कार्य किया जाएगा जिसके लिए 200 फुट नीचे इस मंदिर की नींव रखी जाएगी। राम जन्म भूमि परिसर में भूमि पूजन के बाद मंदिर निर्माण कार्य प्रारंभ किए जाने को लेकर जानकारी दी। राम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण का कार्य 5 अगस्त से प्रारंभ कर दिया गया जिसके लिए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या पहुंचे थे 5 अगस्त को आयोजित इस कार्यक्रम में शामिल हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा कि ऐसे संकट काल में भी चारों तरफ से आलोचनाओं को सहन करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या आने का निश्चय किया प्रधानमंत्री ने साक्षात रामलला को दंडवत कर अपने माता-पिता और अपने संस्कारों को प्रकट किया है। राम मंदिर निर्माण में आगे की प्रक्रिया शुरू हो गई है जिसमे तकनीकी काम बाकी है हमारी सोच के मंदिर 1 हजार साल तक सुरक्षित रहे । जिसके लिए एलएन्डटी कंपनी नींव की ड्राइंग तैयार किया है।पूरे अंदर का दमोमदर नींव की है। जिसके लिए कंपनी के लोग तैयार हैं विकास प्राधिकरण से नक्शा पास कराएगा और संपूर्ण 70 एकड़ भूमि के मुताबिक नक्शा पास कराया जाएगा। वहीं ट्रस्ट की मंशा जाहिर करते हुए कहा कि जमीन के नीचे से निकले खजाने को देश की जनता देखें ऐसी इच्छा है। अयोध्या रामलला का दर्शन करने वाले लोग ऐतिहासिक खजाने का दर्शन भी करें। वहीं कहा कि ऐसी कल्पना नही थी कि खड़े विवादित ढांचे के 12 फुट नीचे ही खजाना निकलेगा। और अगर 10 फुट नीचे गए क्या होगा मालूम नही। राम मंदिर निर्माण को लेकर गठित किए गए ट्रस्ट में अब तक 30 करोड़ रुपया आए हैं। और रामलला के खाते में। भूमि पूजन के दिन सुबह ही 31 लाख रुपए आया है। साथ ही भूमि पूजन के गड्ढे में 3 से 4 घंटे में 49 हजार रुपए आया जिसे सुरक्षित रखा गया है।

अजय सिन्हा

Related Post