Latest News

गीता कुटीर तपोवन में स्वामी गीता नन्द जी महाराज को संत समाज ने दी भावभीनी श्रद्धाजंलि


स्वामी अवशेषानन्द महाराज, स्वामी दिव्यानन्द महाराज एवं मुमुक्षु मंडल के संयोजन में विशाल श्रद्धाजंलि सभा का हुआ आयोजन तीर्थनगरी हरिद्वार में संतसेवा, गौसेवा के लिए विश्व विख्यात धार्मिक संस्था श्री गीता कुटीर के संस्थापक स्वामी गीतानन्द जी महाराज की 15वीं पुण्यतिथि के अवसर पर स्वामी अवशेषानन्द महाराज एवं मुमुक्षु मंडल के संयोजन में विशाल श्रद्धाजंलि सभा का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता युगपुरूष स्वामी परमानन्द महाराज एवं संचालन श्रीमहंत देवानन्द सरस्वती महाराज ने किया।

हरिद्वार, 15 नवम्बर। तीर्थनगरी हरिद्वार में संतसेवा, गौसेवा के लिए विश्व विख्यात धार्मिक संस्था श्री गीता कुटीर के संस्थापक स्वामी गीतानन्द जी महाराज की 15वीं पुण्यतिथि के अवसर पर स्वामी अवशेषानन्द महाराज एवं मुमुक्षु मंडल के संयोजन में विशाल श्रद्धाजंलि सभा का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता युगपुरूष स्वामी परमानन्द महाराज एवं संचालन श्रीमहंत देवानन्द सरस्वती महाराज ने किया। श्रद्धाजंलि सभा में म.मं. स्वामी अर्जुन पुरी महाराज, म.मं. स्वामी हरिचेतनानन्द, म.मं. स्वामी रामकृष्ण दास, म.मं. स्वामी जगदीश दास, म.मं. स्वामी प्रेमानन्द, भारत माता मंदिर के महंत ललितानन्द गिरि, महंत कमल दास, भारत माता मंदिर के मुख्य न्यासी आईडी शर्मा सहित विशिष्ट अतिथियों ने श्रद्धाजंलि अर्पित करते हुए नमन किया। गीता कुटीर में स्वामी गीता नन्द जी महाराज को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए युग पुरूष स्वामी परमानन्द महाराज ने कहा कि स्वामी गीतानन्द महाराज करूणा, त्याग और तपस्या की प्रतिमूर्ति थे। देश में गीता का प्रचार प्रसार, संतसेवा, गौसेवा यही उनके जीवन का लक्ष्य रहा। स्वामी अवशेषानन्द एवं स्वामी दिव्यानन्द महाराज और मुमुक्षु मंडल के संतजनों के सानिध्य में आयोजित विशाल श्रद्धांजलि सभा में विभिन्न अखाडों, आश्रमांे के संत-महंतजनों ने स्वामी गीतानन्द जी महाराज के जीवन पर प्रकाश डालते हुए श्रद्धाजंलि अर्पित की। इस अवसर पर संतश्री रमा देवी, भक्ति देवी, आचार्य हरिहरानन्द, मंहत रविदेव शास्त्री, लाल माता मंदिर के संचालक भक्त दुर्गा, श्रीमहंत विनोद गिरि, पार्षद अनिल मिश्रा,रतन मणि डोभाल सहित संतजन उपस्थिति रहे।

allnewsbharat.com

Related Post