Latest News

पत्रकारों की समस्याओं को लेकर महामहिम को भेजा जायेगा ज्ञापन


प्रिन्ट एवं जर्नलिस्ट एसोसियेशन की उत्तराखण्ड प्रदेश की हुई बैठक में पत्रकारों के हितों को लेकर विचार-विमर्श किया गया। श्रवणनाथ नगर स्थित बाबा टहलदास भवन में हुई बैठक की अध्यक्षता एसोसियेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष गिरीशचंद कुशवाहा ने की।

हरिद्वार। प्रिन्ट एवं जर्नलिस्ट एसोसियेशन की उत्तराखण्ड प्रदेश की हुई बैठक में पत्रकारों के हितों को लेकर विचार-विमर्श किया गया। श्रवणनाथ नगर स्थित बाबा टहलदास भवन में हुई बैठक की अध्यक्षता एसोसियेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष गिरीशचंद कुशवाहा ने की । बैठक में कोरोना काल में लगातार कार्य करने वाले पत्रकारों के समझ उत्पन्न कठिनाईयों एवं आपदा अधिनियम की आड में कई पत्रकारों के खिलाफ पुलिस द्वारा दर्ज झूठे मुकदमा पर भी चर्चा हुई। चर्चा उपरान्त एसोसियेशन ने निर्णय लिया कि पत्रकारों के हितों को लेकर सात सूत्रीय मांगो को लेकर एक ज्ञापन महामहिम राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री को प्रेषित किया जाये। बैठक में एसोसियेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं वरिष्ठ पत्रकार गिरीशचंद कुशवाहा ने कहा कि पत्रकारों की आपसी फूट का प्रशासन फायदा उठाने का प्रयास कर रहा है। पत्रकारों के हितों के लिए सभी को एकजुट होकर लड़ाई लड़नी पड़ेगी। पत्रकार अपने लिए नही बल्कि समाज और देश के लिए कार्य करता है। इस दौरान उत्तराखण्ड के महामहिम को भेजे जाने वाले सात सूत्रीय मांगो को पढ़कर सुनाते हुए उन्होने कहा कि एसोसियेशन की पहली मांग है कि उत्तराखण्ड राज्य में लाॅकडाउन के दौरान कोरोना योद्वा पत्रकारों के खिलाफ दर्ज मुकदमें को स्पंज किया जाये। कोविड19 के दौरान वर्ष 2020 एवं 2021 में कोरोना से अपनी जान गंवाने वाले सभी मान्यता प्राप्त एवं गैर मान्यता प्राप्त पत्रकारों के परिजनों को 25-25 लाख की आर्थिक सहायता एवं परिवार के एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी प्रदान की जाये। उत्तराखण्ड के सभी मान्यता एवं गैर मान्यता प्राप्त पत्रकारों के लिए दस लाख रूपये का सामूहिक बीमा कराया जाये। राज्य के सभी पत्रकारों को चाहे वह मान्यता प्राप्त हो अथवा गैरमान्यता प्राप्त को 60वर्ष की आयु के बाद 7 हजार मासिक पेंशन प्रदान की जाये। उत्तराखण्ड में पत्रकारों का उत्पीड़न रोकने के लिए यथाशीघ्र राज्य प्रेस आयोग का गठन किया जाये। साथ ही जिला स्तर पर भी शिकायत आपत्ति समिति गठित कर जिलाधिकारी,एसएसपी,जिला सूचना अधिकारी के अलावा मान्यता प्राप्त पत्रकारों के दो प्रतिनिधियों के साथ साथ एसोसियेशन के जिलाध्यक्ष को समिति में शामिल किया जाये। ज्ञापन में सातवी मांग हरिद्वार जनपद के वरिष्ठ पत्रकार वेद प्रकाश चैहान के खिलाफ 23मई को दर्ज झूठे मुकदमे को स्पंज किया जाये। साथ पीड़ित के द्वारा दी गयी प्रार्थना पत्र पर तत्काल कार्यवाही की जाये। बैठक में एसोसियेशन के राष्ट्रीय सचिव राजेश कुमार गुप्ता ने कहा कि एसोसियेशन की मांगो पर शीघ्र कार्यवाही नही की गयी तो प्रदेश सरकार का घेराव कर धरना प्रर्दशन किया जायेगा। बैठक का संचालन प्रदेश सचिव एवं प्रवक्ता वेद प्रकाश चैहान ने की।इस दौरान कई पत्रकारों को कोरोना यौद्वा सम्मान से सम्मानित भी किया गया। बैठक में विकास शर्मा,अजय शर्मा,मदन मनप्रीत,रामनाथ,मुकेश वर्मा सहित कई अन्य पत्रकार मौजूद रहे।

अजय शर्मा

Related Post