Latest News

दुर्गम क्षेत्रों में आम मरीजों तक मेडिकल सुविधा पहुॅचाने के लिए एयर एंबुलेंस सेवा शुरू कर दी है।


प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाने की दिशा में एक और आयाम जुड़ गया है। उत्तराखंड राज्य सरकार ने दूरदराज गांवों और दुर्गम क्षेत्रों में आम मरीजों तक मेडिकल सुविधा पहुॅचाने के लिए एयर एंबुलेंस सेवा शुरू कर दी है।

चमोली 22 अक्टूबर,2021, प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाने की दिशा में एक और आयाम जुड़ गया है। उत्तराखंड राज्य सरकार ने दूरदराज गांवों और दुर्गम क्षेत्रों में आम मरीजों तक मेडिकल सुविधा पहुॅचाने के लिए एयर एंबुलेंस सेवा शुरू कर दी है। गरीबों एवं आम मरीजों को अब एयर एंबुलेंस सेवा का लाभ मिल सकेगा। राज्य महिला आयोग की उपाध्यक्ष पुष्पा पासवान एवं सीएमओ डा. एसपी कुडियाल ने एयर एंबुलेंस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। भाजपा जिला अध्यक्ष रघुवीर सिंह बिष्ट ने एयर एंबुलेंस सेवा शुरू करने पर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी एवं स्वास्थ्य मंत्री डा. धनसिंह रावत का आभार व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को चमोली में आपदा प्रभावित क्षेत्रों का जायजा लेने के बाद जिला अस्पताल में भर्ती मरीजों का हाल जान रहे थे। अस्पताल में मैठाणा गांव के 6 मरीज भर्ती थे जो गैस सिलेण्डर फटने के कारण बुरी तरह झुलस गए थे। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि 30 प्रतिशत से अधिक बर्न मरीजों को तत्काल एयर एंबुलेंस से बर्न कोरोनेशन हॉस्पिटल देहरादून भेजा जाए। मुख्यमंत्री के निर्देश पर जिला अस्पताल में भर्ती 6 मरीजों में से 3 मरीजों को रेफर कर एयर एंबुलेंस सेवा से देहरादून भेजा गया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. एसपी कुडियाल ने बताया कि कैलाश पुत्र कृपाल लाल उम्र 35 वर्ष तथा प्रिन्स कुमार पुत्र विजेन्द्र उम 29 वर्ष के घर पर गैस सिलेण्डर की आग में 30 प्रतिशत से अधिक बर्न हुए है। जबकि दृष्टि पुत्री विजेन्द्र कुमार उम्र 18 वर्ष जो की गर्भवती होने के साथ बर्न भी हुई है। उनकी गंभीर हालत को देखते हुए आज रेफर किया गया है। उन्होंने बताया कि उत्तराखंड स्वास्थ्य सेवाओं में पहली बार ऐसा हुआ है कि आम मरीजों को एयर एंबुलेंस की सुविधा मिली है। इसके लिए उन्होंने प्रदेश सरकार का अभार व्यक्त किया।

अंजना भट्ट घिल्डियाल

Related Post