Latest News

कर्फ्यू की आड़ में हरिद्वार नगर कोतवाली पर लगे वसूली के आरोप,सीएम से की शिकायत


राज्यों के जनपदों सहित हरिद्वार जनपद में लगे कोरोना कर्फ्यू की आड़ में नगर कोतवाली पुलिस की चालानी कार्रवाई सिर्फ गरीब ठेली-फड़ लघु व्यापारियों तक ही सिमट कर रह गयी है।

हरिद्वार, (06,04, 2021) देश के विभिन्न राज्यों के जनपदों सहित हरिद्वार जनपद में लगे कोरोना कर्फ्यू की आड़ में नगर कोतवाली पुलिस की चालानी कार्रवाई सिर्फ गरीब ठेली-फड़ लघु व्यापारियों तक ही सिमट कर रह गयी है। 28 अप्रैल को कोरोना कर्फ्यू शुरू होने से आज छह मई तक नगर कोतवाली पुलिस ने नियम तोड़ने वालों के आरोप में केवल चाय की दुकान, खाने के ढाबे सहित सब्जी, फल इत्यादि सामान लगाने वाले लघु व्यापारियों का ही चालान कर जुर्माना वसूल किया है, जबकि दिनभर पुराने रानीपुर मोड़ से लेकर भीमगोडा तक लोग वेबजह अपने चार पहिया वाहनों सहित दो पहिया वाहनों पर सरपट दौड़ लगाते हैं, जिसे देखकर भी नगर कोतवाली पुलिस आंखों पर पट्टी बांधे बैठी है। इसी कड़ी में आज नगर कोतवाली में तैनात महिला दरोगा लक्ष्मी मनोला एवं कांस्टेबल गुरप्रीत कौर दोपहर 12 बजे कोविड कर्फ्यू का पालन कराने हेतु सड़क पर निकलीं। आरोप है कि इस दौरान उन्होंने सब्जी, फल व चाय लगाने वाले लघु व्यापारियों का सामान जबरन जब्त कर लिया। इतना ही नहीं दोनों ने स्कूटी पर सवार होकर लघु व्यापारियों के साथ अभद्रता करते हुए उनकी ठेली पलटने की धमकी भी दी, जबकि कुछ दिन पूर्व एक वरिष्ठ समाजसेवी एवं पत्रकार द्वारा हरिद्वार रेलवे रोड़ पर अस्थियां लेकर आ रहे यात्रियों को खाने-पीने की दुकानों के बंद होने के कारण हो रही परेशा‌नी से अवगत कराते हुुए सिर्फ पैकिंग व्यवस्था को चालू रखने का आग्रह किया था, जिस पर मोबाइल फोन द्वारा शहर के सीओ सिटी अभय प्रताप ने पैकिंग व्यवस्था को चालू रखवाने का आश्वासन दिया था, बावजूद इसके इन दोनों महिला पुलिसकर्मियों के गरीब विरोधी रवैये को लेकर रेलवे रोड़ हरिद्वार के एक लघु व्यापारी नेता ने इसकी शिकायत राज्य के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत से कर दोनों महिला पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

allnewsbharat.com

Related Post