Latest News

ऋषिकुल राजकीय आयुर्वेद महाविद्यालय में कोविड-19 वैक्सीन के 11 सेन्टर बनाये


कोविड वैक्सीन सेन्टरस पर वैक्सीन लगवाने के लिए वैक्सीन लाभार्थियो मे विशेष उत्सुक्ता जिलाधिकारी सी0रविशंकर के निर्देशन, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 एस0के0झा0 के संयोजन में ऋषिकुल राजकीय आयुर्वेद महाविद्यालय में कोविड-19 वैक्सीन के 11 सेन्टर बनाये गये हैं |

हरिद्वार (10.03.2021)कोविड वैक्सीन सेन्टरस पर वैक्सीन लगवाने के लिए वैक्सीन लाभार्थियो मे विशेष उत्सुक्ता जिलाधिकारी सी0रविशंकर के निर्देशन, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 एस0के0झा0 के संयोजन में ऋषिकुल राजकीय आयुर्वेद महाविद्यालय में कोविड-19 वैक्सीन के 11 सेन्टर बनाये गये हैं जिसमे रोजाना कोविड-19 वैक्सीन फ्रन्ट लाइन वर्करस एवं विभागों के अधिकारियों, कर्मचारियों, पुलिस बल, अर्द्ध सैनिक बला,ें पत्रकारों,स्वयंसेवकों, वरिष्ठ नागरिकों, 45 वर्ष से अधिक उम्र जो बिमारी से ग्रसित हो, को कोविड-19 वैक्सीन दी जा रही है। सभी कोविड-19 वैक्सीन सेन्टरस पर इण्डियन रेडक्रास के सचिव डा0 नरेश चैधरी के नेतृत्व में रेडक्रास के स्वयंसेवक लाभार्थियों के रजिस्ट्रेशन कर सत्यपान उपरान्त वैक्सीन लगवाने में विशेष सहयोग कर रहे हैं। आज ऋषिकुल आयुर्वेद महाविद्यालय वैक्सीन केन्द्र पर मुख्य रूप से विश्व विख्यात मर्म विशेषज्ञ/उत्तराखण्ड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0डा0 सुनील कुमार जोशी ने भी वैक्सीन लगवायी। कुलपति डा0सुनील कुमार जोशी ने कहा कि विभिन्न चरणों के माध्यम से जिस किसी को भी वैक्सीन लगवाने का सूनहरा मौका मिल रहा है उनको वैक्सीन लगवाकर कोरोना महामारी से अपना, अपने परिवार का एवं अपने इर्दगिर्द रहने वालो का विशेष बचाव करना चाहिए। डा. जोशी ने कहा कि यह हम सब भारत वासियों के लिए गौरव है कि हमें अपने देश की ही निर्मित वैक्सीन लगवाने का सौभाग्य सब देशवासियों को भारत सरकार द्वारा दिया गया है और अन्य देशों की अपेक्षा हमारे देश मंे लाभाार्थियों को वैक्सीन लगवाने वालों की संख्या सबसे अधिक हैै। डा0 सुनील जोशी ने वैक्सीनेसन सेन्टरस के नोडल अधिकारी/रेडक्रास के सचिव डा0नरेश चैधरी एवं उनके सहयोगी सभी रेड क्रास स्वयं सेवकों की भूरी-भूरी प्रशंसा करते हुए कहा कि ’’आप सब सही मायने में जनसमाज की समर्पित होकर सच्ची सेवा कर रहे हैं । इसके लिए आप सभी को जो वैक्सीन लाभार्थियों से दुआएं मिल रही हैं वो अतुल्नीय है। कुलपति ने डा0 नरेश चैधरी एवं उसकी सहयोगी टीम को विश्वविद्यालय स्तर से भी मुख्य रूप से सम्मानित करने की घोषणा की। आज शान्ति कुंज के सैकडांे वरिष्ठ नागरिक जिसमें सीनियर सर्जन डा0दत्ता,डा0बृजमोहन गोड., एस0एम0जे0एन0डिग्री काॅलेज के पूर्व प्रधानाचार्य डा0आर0डी0उपाध्याय,हरिद्वार नागरिक मंच के अध्यक्ष जगदीश पावहा, आयुर्वेद विश्वविद्यालय के मुख्य परिसर निदेशक डा0राधाबल्लभ सती, मदहहुड आयुर्वेद महाविद्यालय के प्रधानाचार्य डा0अशोक शर्मा, सेवानिवृत्त प्रोेफेसर डा0 संजय शर्मा, डा0 महक सिंह,ने भी फ्रटलाइन वर्कस एवं कुम्भ मेला वर्कस के साथ वैक्सीन लगवायी। वैक्सीन सेन्टरस पर विशेष रूप से रेडक्रास स्वयं सेवकों में डा0अवधेश,डा0रोहित रावत,डा0 वर्षा, डा0विपिन नौटियाल,डा0उर्मिला पाण्डेय,श्रीमती पूनम, सन्तोष कुमार, विकास देशववाल की सक्रिय भूमिका रहीं। डा0 नरेश चैधरी ने अवगत कराया कि जिलाधिकारी सी0रविशंकर के विशेष निर्देश है कि किसी भी वैक्सीन लाभार्थी को शंका या समस्या नहीं होनी चाहिए, उनकी शंकाओं का समाधान मौके पर ही सर्वोच्च प्राथमिकता से किया जाये। साथ ही साथ अन्य जनसमाज को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करते हुए और वैक्सीन के उपरान्त भी सामाजिक दूरी, मास्क लगाना तथा हाथों को बराबर सेनेटाइज करने के लिए भी विशेष रूप से जागरूक किया जाये।

allnewsbharat.com

Related Post