Latest News

रामकृष्ण मिशन के बड़े संत स्वामी नित्यश्रद्धानंद महाराज ब्रह्मलीन


रामकृष्ण मिशन के बड़े स्वामी जी बड़े ही दयालु एवं सरल स्वभाव के थे कोई भी बीमार व्यक्ति अगर अस्पताल में पहुंच गया और उसके पास पैसे नहीं है तो उस मरीज को वापस नहीं भेजा उसका पूरा इलाज करने के बाद ही उसे घर वापस भेजा यह उनकी उदारता थी जो हर संत में नहीं होती बड़े स्वामी जी हर मरीज से बड़ा प्रेम करते थे वार्डों में जाकर पूछते थे कि आपकी कैसी तबीयत है और कहते थे आप जल्दी ठीक हो जाओगे मरीज को कोई गंभीर बीमारी होती तो डॉक्टर से भी कंसल्ट करते थे ऐसा उदार भाव उनके अंदर था ।

रिपोर्ट  - रामेश्वर गौड़

Related Post