Latest News

दिव्य भव्य रूप से संपन्न होगा कुंभ मेला, अखाड़ों को मिलेंगी सभी सुविधाएं-श्रीमहंत नरेंद्र गिरी


अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज ने कहा कि गंगा सभा के तत्वाधान में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के सानिध्य में सभी 13 अखाड़ों के संतो ने मां गंगा का पूजन किया।

हरिद्वार, 7 अप्रैल। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज ने कहा कि गंगा सभा के तत्वाधान में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के सानिध्य में सभी 13 अखाड़ों के संतो ने मां गंगा का पूजन किया। उसका उद्देश्य कुंभ मेले को सकुशल संपन्न कराना देश से कोरोना महामारी का दूर होना एवं उत्तराखंड का समग्र विकास होना है। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने अखाड़ा परिषद को आश्वासन दिया है कि सभी तेरह अखाड़ों के संतो को मूलभूत सुविधाएं तत्काल रूप से प्रदान की जाएंगी और किसी को भी किसी असुविधा का सामना नहीं करना पड़ेगा। श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज ने कहा कि मुख्य सचिव ओमप्रकाश से उनकी भेंट वार्ता हुई है। जिसमें मुख्य सचिव ने बताया कि हाईकोर्ट के सख्त निर्देशों के कारण कुंभ मेले की दिव्यता व भव्यता में कमी आई है। लेकिन जो संभव होगा वह मेला प्रशासन द्वारा सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। उन्होंने कहा कि सभी 13 अखाड़ों में बिजली, पानी, शौचालय की व्यवस्था को तत्काल रुप से दुरुस्त कराया जाएगा और कुंभ मेला भव्य रुप से संपन्न कराया जाएगा। अखाड़ा परिषद अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री से मांग की है कि सभी तेरह अखाड़ों के बाहर से आने वाले साधु संतों को किसी को भी किसी प्रकार की असुविधा का सामना ना करना पड़े। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री एवं मुख्य सचिव के आश्वासन के बाद संतों में यह आस बंधी है कि सभी सुविधाएं उन्हें प्राप्त होंगी और मेला दिव्य और भव्य रुप से संपन्न होगा। अखाड़ा परिषद अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज ने कहा है कि कुंभ मेले को संपन्न कराने में जितना दायित्व अखाड़ा परिषद का होता है। उससे ज्यादा दायित्व सरकार का होता है देश-विदेश से आने वाले संत सरकार के भरोसे ही मेला करने आते हैं। सरकार जितनी सुविधाएं देती है उतना ठीक है। उसके अलावा जो धन संतों के पास होता है। वह उसे व्यय करते हैं। इसलिए सभी कुंभ मेले को सफल कराने में अखाड़ा परिषद का सहयोग करें। उन्होंने कहा कि सरकार हरिद्वार आने वाले श्रद्धालुओं पर ज्यादा प्रतिबंध ना लगाएं इससे व्यापारी वर्ग को भी बड़ी राहत मिलेगी और सभी श्रद्धालु भक्त श्रद्धा एवं आस्था के साथ पतित पावनी मां गंगा में डुबकी लगाकर अपने जीवन को सफल बनाएंगे।

allnewsbharat.com

Related Post